बुधवार, 23 जुलाई 2014

परमात्मा,प्रकृति और पर्यावरण

परमात्मा,प्रकृति और पर्यावरण
    परमात्मा ने अपनी प्रतिकृति के रूप में प्रकृति का निर्माण किया । प्रकृति ने पेड,पौधो,वनस्पतियों के व्दारा धरा को श्रृगारित कर  मानव समाज को पर्यावरण की शुध्दता समर्पित की । वैदिक युग में पर्यावरण के महत्व को जानते हुए पर्यावरण की रक्षा के लिए पूरा मानव समाज समर्पित रहा ,क्योंकि मानव जीवन का अस्तित्व प्रदूषण रहित प्राकृतिक वातावरण से ही था।

सोमवार, 21 जुलाई 2014

Rf140701- कु.नेहा आचार्य, एम,एससी (इनवायरमेंन्‍ट मेनेजमेन्ट)

नाम-           कु.नेहा आचार्य
पिता-           शैलेन्‍द्र आचार्य,  
जन्‍म दिनांक-    12/11/84  
जन्‍म समय-     7/10 पीएम  
जन्‍म स्‍थान-     उज्‍जैन 
शिक्षा-      बी एससी (मायक्रोबायलाजी), एम,एससी (इनवायरमेंन्‍ट मेनेजमेंन्‍ट)
सम्‍पर्क सूत्र-      शैलेन्‍द्र आचार्य, 39 संत नगर उज्‍जैन, मप्र॰  
मो;                     9424099405 
मेल       neha_acharya2000@rediffmail.com
------------------------------------------------------------------------------------------------------------
इसका कोई भी प्रकाशन समाज हित में किया जा रहा हे|सभी समाज जनों से सुझाव/सहायता की अपेक्षा हे|

मंगलवार, 15 जुलाई 2014

सहस्र औदिच्य ब्राह्मण समाज का 2014 का परिचय सम्मेलन।


     सहस्र औदिच्य ब्राह्मण समाज का आगामी परिचय सम्मेलन एक ही दिन उज्जैन एवं इंदोर में दिनांक 21 दिसंबर 2014 को होने जा रहा है। 
    उज्जैन में पिछले 15 वर्षों से परिचय सम्मेलन वरिष्ठ सदस्यों द्वारा युवकों के सहयोग से आयोजित किया जाता रहा है। पिछले वर्ष से यह ज़िम्मेदारी अब युवकों को दे दी गई है। 
    युवकों के नई ऊर्जा के साथ वर्ष 2013 में परिचय सम्मेलन सम्पन्न किया। 
     वर्ष 2013 की एक विशेष बात यह रही की एक सप्ताह के अंतर से दो परिचय सम्मेलन दो अलग युवक आयोजकों द्वारा आयोजित किए गए। दोनों ही सम्मेलन सफल रहे।

शिव के 10 अवतार।

शिव के 10 अवतार।

विष्णु के 24 अवतार हैं इसी प्रकार शिव के 28 अवतार हें। लेकिन उनमें भी जो प्रमुख है उसी की चर्चा की जाती है। जैसे विष्णु के 10 अवतार और शिव के 10 अवतार।

हनुमान, अश्वत्थामा, दुर्वासा, पिप्पलाद, वृषभ (जैन धर्म के पहले तीर्थंकर) आदि सभी भी शिव के अवतार हैं।

शुक्रवार, 4 जुलाई 2014

औदीच्य बंधु पत्रिका 2014

औदीच्य बंधु जुलाई 2014 
                                                              लिंक  क्लिक करें --   डिजिटल लाइब्रेरी
                                                                             "औदीच्य बंधु" वर्ष 2012/2013 एवं
                                                                               अन्य समस्त प्रकाशन देखने के लिए  
















औदीच्य बंधु वर्ष 2014
  1. January   जनवरी  2014 
  2. February फरवरी  2014 
  3. March     मार्च      2014 
  4. April       अप्रैल    2014 
  5. May        मई        2014 
  6. Jun          जून       2014 
  7. July         जुलाई    2014 
======================================================================

समाज हित में प्रकाशित। आपको कोई जानकारी पसंद आती है, ऑर आप उसे अपने मित्रो को शेयर करना/ बताना चाहते है, तो आप फेस-बुक/ ट्विटर/ई मेल आदि, जिनके आइकान नीचे बने हें को क्लिक कर शेयर कर दें।

मंगलवार, 1 जुलाई 2014

Rm 1400701 -युवक -गोरव शर्मा बी.काम. डी सी ए, व्यवसाय रत

Rm 1400701 
नाम -                                            गोरव शर्मा  
पिता का नाम-                               श्री महेश चन्द्र शर्मा  

शनिवार, 14 जून 2014

‘ नो उल्लू बनाविंग ‘‘

‘ नो उल्लू बनाविंग ‘‘

   आज कल बडे जोर शोर से धूम मचा रहा है एक स्लोगन ‘‘ नो उल्लू बनाविंग‘‘ क्यों कि हम सब एक दूसरे को कहीं न कहीं उल्लू बनने/बनाने में लगे है। इस विज्ञानमय जगत में हर आदमी तत्काल हाजिर जवाब देकर कह देता है कि ‘‘नो उल्लू बनाविंग‘‘।