20 जनवरी 2015

Rf-150104-युवती, नाम- रौशनी द्विवेदी कद 5’1” बी काम जन्म-91

Rf-150104युवती-
नाम-                             रौशनी द्विवेदी 
कद-                               5’1” 
पिता –                             महेश द्विवेदी , 
शिक्षा –                           बी काम फ़ाइनल, 
जन्म तिथि-                     06/12/19 91, 
जन्म समय-                    7:20 AM, 
जन्म स्थान-                    इंदौर, 
गौत्र-                                कोसी औदीच्य सहस्र, 
संपर्क –                             ग्राम पोस्ट विरमाबल जिला रतलाम मप्र   457441
फोन-            9993337735, 
औदीच्य बंधू सदस्यता क्र -1575

समाज हित में प्रकाशित।आपको कोई जानकारी पसंद आती है, ऑर आप उसे अपने मित्रो को शेयर करना/ बताना चाहते है, तो आप फेस-बुक/ ट्विटर/ई मेल आदि, जिनके आइकान नीचे बने हें को क्लिक कर शेयर कर दें।

13 जनवरी 2015

भारत रत्न और हम-निरन्तर सिंह पण्ड्या.

भारत रत्न और हम
मित्रो,
 भारत रत्‍न हमारे देश का उच्‍चतम नागरिक सम्‍मान है, जो कला, साहित्‍य और विज्ञान व अन्य क्षेत्रो में अपनी साधारण सेवा के लिए तथा उच्‍चतम स्‍तर की लोक सेवा को मान्‍यता देने के लिए प्रदान किया जाता है। किन्तु मेरी राय में इस देश का हर वह नागरिक जो देश की प्रगति में इमानदारी से कार्य कर, देश को आर्थिक और वैश्विक रूप से बलवान बना रहा हो, देश की गति व उद्दार के लिए कार्य कर रहा हो, असल माइने में वह ही भारत रत्न है| जिसके लिए उन्हें किसी तमगे की जरुरत नहीं है|  
किन्तु देश की विडम्बना यह है, की भारत की आजादी के बाद से आज तक कुछ राजनितिक दल अपने फायदे के लिए भारत रत्न  जेसे उच्‍चतम नागरिक सम्‍मान को उनके ही कुछ चित-परिचित, नाते-रिश्तेदारों को दे देते है| किन्तु असल में भारत रत्न तो हर भारतीय के दिल का वो जज्बा है, जो भारत की आन बान शान के लिए कुछ भी कर गुजरने को प्रेरित करता है|  
इस सम्मान को पाने वाले वे लोग होते है, जिनके जीवन का एक ही लक्ष्य था एक ही उद्देश्य था, और उसे पाने के लिए वे अपने जीवन में आने वाली बाधाओं को दृढ निश्चयी होकर लांघते हुए अपने लक्ष्य को आत्मसात कर गए| जो लोग अपने चित्त को चारों और बिखेर कर कार्य करते है, उन्हें सेकड़ो वर्षो तक सफलता का मूल्य मालूम नहीं होता, अतः अपने जीवन का लक्ष्य स्पष्ट रखें, और अपने कार्य को पूर्ण हृदय से निष्ठा पूर्वक निडर होकर ना सिर्फ किताबी कीड़े बनकर बल्कि इस संसार के व्यावहारिक जीवन के गुणों को अपना कर अपना लक्ष्य हासिल करे|
जो व्यक्ति इन गुणों को अपनाकर देश के विकास में अपना अमूल्य योगदान देता है, वो ही भारत रत्न है|  

निरन्तर सिंह पण्ड्या
 Er Nirantar Singh Pandya
 ( दोंदवाडा,दोतरडी)

9685013001
समाज हित में प्रकाशित।आपको कोई जानकारी पसंद आती है, ऑर आप उसे अपने मित्रो को शेयर करना/ बताना चाहते है, तो आप फेस-बुक/ ट्विटर/ई मेल आदि, जिनके आइकान नीचे बने हें को क्लिक कर शेयर कर दें।

12 जनवरी 2015

Rf-150103युवती शिखा औदीच्य् जन्म, 1986 , एम.काम. पीजी डिप्लोसमा इन टेक्से्शन.

Rf-150103 युवती  
नाम-                     शिखा औदीच्‍य  
पिता-                     डॉ. प्रेमवल्‍लभ औदीच्‍य  

Rm150101-युवक नाम- शंशाक व्यास जन्म 1985 , शिक्षा बी.बी.ए. एम.बी.ए. , 5;'8"

Rm150101-युवक 
 नाम-                                               शंशाक व्‍यास  
पिता-                          हरीश व्‍यास  

6 जनवरी 2015

Rf 150102- युवती -रजनी व्यास, जन्म 95 10 वीं गोत्र- गौतम औदीच्य ब्राह्मण,कद- 5’3”

Rf 150102 
 नाम-                                      रजनी व्यास, 
पिता-                                      गोरीशंकर व्यास, 

Rf 150101 नाम- अर्चिता व्यास ,,जन्म-19 91, एम् ए संस्कृत पी जी डी सी ए. गोत्र- गौतम औदीच्य ब्राह्मण,कद- 5’2”


Rf 150101 
नाम-                                         अर्चिता व्यास 
पिता-                                        गोरीशंकर व्यास,

3 जनवरी 2015

औदीच्य बंधु 2015

औदीच्य बंधु जनवरी 2015
औदीच्य बंधु सार्वजनिक न्यास द्वारा संचालित,
अखिल भारतीय औदीच्य महासभा का मुख पत्र,
सहस्र औदीच्य ब्राह्मण समाज का हिन्दी भाषा में इंदोर से प्रकाशित मासिक पत्र।
Audichya Bandhu January-2015  – monthly Magazine in Hindi, for Sahasra Audiichya Brahman samaj  .डिजिटल प्रकाशन डॉ मधु सूदन व्यास एम आई जी 4/1 प्रगति नगर उज्जैन। 0734-2519707 / 9425379102 E Mail- audichyamp@gmail.com http://audichyabandhu.blogspot.in/

    http://audichyabandhu.org/

                                                                           





  1. औदीच्य बंधु जनवरी 2015 पोष-माघ 2071वर्ष 91 अंक -1,

===============================================================================
 सहस्त्र औदिच्य ब्राम्हण समाज के हित में प्रसारित अखिल भारतीय औदीच्य महासभा का मासिक मुखपत्र

“औदीच्य बंधू”

 प्रतिमाह घर पर पाने के लिए… आज ही सदस्यता राशी निम्न पते पर प्रषित कर सदस्य बने.

मासिक पत्र आपके घर पर, सदस्यता शुक्ल सदस्य बनने के लिए  राशी मनीआडर/ड्राफ्ट से निम्न पते पर भेजे -
प्रबंध संपादक – मनमोहन ठाकर
सदस्यता शुक्ल पाँच वर्ष के लिए 750/- एवं संरक्षक सदस्यता 1500/-
सदस्य बनने के लिए  राशी मनीआडर/ड्राफ्ट से निम्न पते पर भेजे -
प्रबंध संपादक- मनमोहन ठाकर, ५९३ स्नेह नगर,इंदौर
अथवा “औदीच्य बंधु  सार्वजानिक न्यास इंदौर के स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया (पलसीकर कोलोनी ब्रांच के) 
अकाउंट न.’53015573642′ स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ब्रांच पलसीकर कॉलोनी
IFS Code : SBIN 0030014 में सदस्यता राशि+अतिरिक्त रु 10/ जमा कर सदस्य बने।
राशी जमा करके या भेज कर अलग स्पष्ट अक्षरों में पत्र द्वारा अपने हिंदी एवं अंग्रेजी में पूरा नाम, पता पिनकोड, सहित पूरी जानकारी पत्र प्रषित जरुर करें।
साथ ही इस audichyabandhu.org का उल्लेख अवश्य करे । ====================================================================समाज हित में प्रकाशित।आपको कोई जानकारी पसंद आती है, ऑर आप उसे अपने मित्रो को शेयर करना/ बताना चाहते है, तो आप फेस-बुक/ ट्विटर/ई मेल आदि, जिनके आइकान नीचे बने हें को क्लिक कर शेयर कर दें।

23 दिसंबर 2014

सहस्त्र औदीच्य समाज उज्जैन का सोलहवां परिचय सम्मेलन सानन्द सम्पन्न|

सहस्त्र औदीच्य समाज उज्जैन का सोलहवां परिचय सम्मेलन सानन्द सम्पन्न|
उज्जैन- 21/12/20 14
सहस्त्र औदीच्य समाज उज्जैन का सोलहवां परिचय सम्मेलन दिनांक 21 दिसम्बर 2014 को सानन्द सम्पन्न|
परिचय सम्मेलन एक जादुई चिराग-जहां पूरी होती मन की मुराद।
16 वे पुष्प के रूप में अ. भा. सहस्त्र औदीच्य समाज युवक/ युवती परिचय सम्मेलन दिनांक 21 दिसम्बर 2014 को सानन्द सम्पन्न हुआ। आयोजन के मुख्य अतिथि श्री रघुनंदन जी शर्मा, अध्यक्ष अ.भा.औदीच्य महासभा, एवं विशेष अतिथि श्री उदयसिंह जी पण्ड्या, उपाध्यक्ष अ. भा. औदीच्य महासभा, श्री हीरालाल जी त्रिवेदी, सूचना आयुक्त, श्री रमेशचन्द्र जी पण्ड्या, अपर कलेक्टर, श्री सुभाष शर्मा, महापौर देवास, श्री राजेन्द्र पाण्डे विधायक जावरा, श्री शिवनारायण जी जागीरदार, पूर्व विधायक, श्री मोहनलाल जी जोशी, अध्यक्ष महामालव धर्मशाला उज्जैन, श्री वासुदेव जी रावल, से. नि. डीएसपी, श्री प्रकाश जी दुबे, अध्यक्ष अ.भा.औदीच्य महासभा म. प्र. , श्री सुरेश उपाध्याय, अध्यक्ष वरिष्ठजन समिति उज्जैन, श्री भगवानसिंह शर्मा, संगठन मंत्री, श्री संदीप शर्मा समाजसेवी, श्रीमती ऋतुबाला व्यास पार्षद, श्रीमती माया बदेका थे। पूरे समाचार देखें लिं
क-
सहस्त्र औदीच्य समाज उज्जैन का सोलहवां परिचय सम्मेलन सानन्द सम्पन्न|

समाज हित में प्रकाशित।आपको कोई जानकारी पसंद आती है, ऑर आप उसे अपने मित्रो को शेयर करना/ बताना चाहते है, तो आप फेस-बुक/ ट्विटर/ई मेल आदि, जिनके आइकान नीचे बने हें को क्लिक कर शेयर कर दें।

Rf- 141204 युवती सुश्री श्वेता शर्मा , जन्म84,5’4”, शिक्षा- बी. एस. सी. कंप्यूटर साइंस - एन. आर. एच. एम्. में कार्यरत,

 Rf- 141204 युवती 
नाम-                                         सुश्री श्वेता शर्मा , 
जन्म तिथि-                               21 जुलाई 1984,